राजस्थान में जमीन कैसे खरीदे 2023: पूरी जानकारी

जमीन खरीदते समय यह पता करना बहुत जरुरी होता है कि जमीन विवाद है या नहीं. यदि आप किसी टाउनशिप में प्रॉपर्टी खरीद रहे हैं और वहां सभी बैंक लोन भी दे रही हैं, तो समझ लें कि वहां कोई समस्या नहीं है. क्योंकि, बैंक किसी भी टाउनशिप में लोन तभी देते हैं जब वहां का टाइटल (स्वामित्व) और सर्च क्लियर होता है.

राजस्थान में प्लॉट खरीदने से पहले खरीदार को सड़क कनेक्टिविटी, सामाजिक सुविधाओं की उपलब्धता, भौतिक बुनियादी ढांचे और पानी की आपूर्ति जैसे सुविधाए देखने के बाद ही जमीन खरीदने पर विचार करे.

किसी भी जमीन को खरीदने पहले उस जमीन सम्बंधित सभी प्रकार की जानकारी सुनिश्चित कर ले ताकि बाद में किसी भी प्रकार की कोई समस्या उत्पन्न न हो. इस पोस्ट में राजस्थान में जमीन कैसे ख़रीदे की पूरी जानकारी दिया गया है, जो जमीन खरीदने की प्रक्रिया एवं सतर्कता को व्यक्त करता है.

राजस्थान जमीन खरीदने में लगने वाले दस्तावेज

  • अलॉटमेंट लैटर
  • जनरल पावर ऑफ़ अटार्नी
  • प्रॉपर्टी टैक्स से जुड़ी लेटेस्ट रसीदें
  • बैनामा दस्तावेज
  • पहचान पत्र
  • खाता प्रमाण पत्र
  • NOC – नॉन ऑब्जेक्शन सर्टिफिकेट

जमीन खरीदने से पहले निम्न सावधानियां बरतें

जमीन खरीदने से पहले सावधानिया: जमीन विक्रेता के नाम पर रजिस्टर होनी चाहिए. इसके बाद जांचें कि क्या विक्रेता के पास जमीन बेचने का पूरा अधिकार है या नहीं. वह इसका एकमात्र मालिक है या नहीं पता करें.

जमीन सम्बंधित डॉक्यूमेंट्स चेक करें:

  • जमीन विक्रेता का आइडेंटिटी प्रूफ देखें.
  • इसे डॉक्यूमेंट्स के साथ मैच करें.
  • प्रॉपर्टी बेचने वाले से पावर ऑफ अटॉर्नी की कॉपी लें.
  • प्रॉपर्टी अब तक कितनी-बार खरीदी और बेची गई है यह पता करें.
  • यह सुनिश्चित करने के लिए जमीन के पुरने रजिस्ट्री डाक्यूमेंट्स जाँच करें.

जमीन रिकॉर्ड की जानकारी प्राप्त करें: अगर घर बनाने के लिए जमीन खरीद रहें है, तो वहां चेक करे कि रेसिडेंशियल परमीशन है या नहीं. अगर प्रॉपर्टी कमर्शियल या इंडस्ट्रियल है, तो वहां जमीन न खरीदें. क्योंकि, वहां आप घर नहीं बना पायेंगे.

इसके अलावे, राजस्थान में जमीन की अन्य डाक्यूमेंट्स, खसरा नंबर, मैप रिकॉर्ड, लोकेशन आदि की जाँच करे.

शहर में जमीन खरीदने के लिए डॉक्यमेंट्स

  • जमीन की स्थिति के अनुसार उसकी वैधता की जाँच सुनिश्चित करे.
  • लोकल अथॉरिटी जैसे नगर निगम से नक्शा पास है या नहीं इसकी जाँच करे.
  • टाउन एंड कंट्री प्लानिंग की परमीशन है या नहीं, चेक करे.
  • अखबार में सूचना ज़ारी जरुर करें.
  • यदि जमीन खरीद लिए है, तो उसकी जानकारी अखबार में उसकी सूचना अवश्य डाले. ताकि यदि प्रॉब्लम हो, तो उसकी समाधान जल्द से जल्द किया जा सके.

राजस्थान में जमीन कैसे ख़रीदे?

  • किसी भी जमीन खरीदने के लिए दोनों पक्षों की रजामंदी होना जरुरी है. जमीन का खरीददार और विक्रेता को आपसी सहमति से बैनामा तैयार करवाना होता है. इसके बाद इस बैनामा के आधार पर ऑनलाइन रजिस्ट्रेशन किया जाता है.
  • दस्तावेज और क्रेता-विक्रेता के फोटो आदि ऑनलाइन सबमिट कर देते हैं. उसके बाद एक रजिस्ट्रेशन नंबर मिलता है जिसको अपने पास रखा जाता है.
  • जमीन खरीदने के लिए लोगों को रजिस्ट्री करानी होती है. रजिस्ट्री की पूरी प्रक्रिया बैनामा (Sale Deed) रजिस्टर्ड करने पर पूरी होती है. बैनामा तैयार करने के लिए दोनों पक्षों की रजामंदी जरुरी होती है जिससे बैनामा तैयार किया जाता है. बैनामा के आधार पर ही रजिस्ट्री की पूरी प्रक्रिया ऑनलाइन रजिस्ट्री संपन्न होती है.
  • दोनों पक्षों के दस्तावेज और फोटो ऑनलाइन submit कर दिया जाता है. submit होने के पश्चात रजिस्ट्रेशन नंबर प्राप्त होता है. रजिस्ट्रेसन नंबर और सेल डीड को रजिस्ट्रेशन ऑफिस में जमा किया जाता है.
  • रजिस्ट्री ऑफिस द्वारा सभी दस्तावेजो को सावधानीपूर्वक जाँच कर जमीन की रजिस्ट्री कर दी जाती है. उसके बाद मुहर लगा कर ओरिजिनल रजिस्ट्री दस्तावेज दे दिया जाता है. लेकिन कभी कभी रजिस्ट्री के एक दिन बाद भी मुहर लगा दस्तावेज क्रेता को दिया जाता है.

Related Posts:

पूछे जाने वाले सामान्य प्रश्न: FAQs

Q. जमीन खरीदने से पहले क्या क्या जाँच करें?

जमीन खरीदते समय सावधानी: जमीन खरीदते वक्त टाइटल की जांच जरूर करें.
>>जमीन रजिस्ट्री के दफ्तरों में खोज करें.
>> जमीन खरीद में टैक्स और खाता चेक करें.
>> जमीन की अवधि पता करें.
>> पावर ऑफ अटॉर्नी जाँच करें.
>> भूमि खरीद के लिए मूल दस्तावेजों की वेरिफिकेशन
>> जमीन खरीद के लिए अप्रूवल और परमिशन
>> जमीन खरीद के लिए पब्लिक नोटिस

Q. ऑनलाइन जमीन का विवरण राजस्थान में कैसे देखें?

अपना खाता राजस्थान पोर्टल पर लॉग इन करें.
जिस जगह जमीन है वहां कि जिला का चयन करें.
वेबसाइट पर फोन नंबरों की एक सूची प्रदान कि जाएगी. उस नंबर पर कॉल करें.
आपको नागरिक भूमि रिकॉर्ड का विवरण प्राप्त कर दिया जायेगा.

Q. राजस्थान में जमीन किसके नाम है कैसे पता करें?

राजस्थान में जमीन किसके नाम है पता करने के लिए सबसे पहले apnakhata.raj.nic.in को किसी भी > > इंटरनेट ब्राउज़र पर सर्च करें.
> जिला सेलेक्ट करें.
> तहसील सेलेक्ट करें.
> गाँव का नाम सेलेक्ट करें.
> फिर अपने नाम से जमीन का चयन विकल्प को सेलेक्ट करें.
> अपना नाम सर्च करें. फिर अपनी जमीन नाम से देख सकते है.

Q. खसरा नंबर से राजस्थान की जमीन कैसे देखें?

खसरा नंबर से राजस्थान की जमीन देखने के लिए राजस्थान राज्य के ऑफिसियल वेबसाइट को open करें. और होम पेज पर जिला को सेलेक्ट करें.
ब्लॉक/तहसील नाम को सेलेक्ट करें.
गाँव का नाम सेलेक्ट करें.
खसरा नंबर से जमीन का नक्शा देखने के लिए सर्च बॉक्स में जमीन का खसरा नंबर फील कर सर्च करें.
सर्च करने के बाद आप खसरा नंबर से राजस्थान की जमीन देख सकते है.

Q. राजस्थान जमीन कि रजिस्ट्री में कितना खर्च आता है?

यदि कोई व्यक्ति राजस्थान में 60 लाख रुपये की संपत्ति खरीदना चाहता है, जहां स्टांप शुल्क दर 6% है, तो उसे स्टांप शुल्क के रूप में 3.6 लाख रुपये और पंजीकरण शुल्क के रूप में 60,000 रुपये का भुगतान करना होगा.

Leave a Comment