सरकारी जमीन को अपने नाम कैसे करें 2024

भारत में कई ऐसे जमीन है जहाँ सरकार की कब्ज़ा नही है. बल्कि उस जमीन पर ग्रामीण अपने सुविधा के अनुसार गुजारा करने के लिए उपयोग करते है. ऐसे जमीन को सरकार समय-समय पर खाली कराती रहती है. लेकिन यदि ग्रामीण को सरकारी जमीन अपने नाम कराना है, तो सरकार द्वारा कई विकल्प प्रदान किए गए है, जिसे फॉलो कर सरकारी जमीन को अपने नाम करा सकते है.

यदि सरकारी जमीन खेती के लिए उपयोगी है, तो उसे अपने नाम कराने के कई विकल्प उपलब्ध है. जैसे कार्ट द्वारा उस जमीन को ग्रामीण अपने नाम करा सकते है. जमीन को अपने नाम कराने की प्रक्रिया निचे उपलब्ध है.

ध्यान दे, किसी भी सरकारी जमीन पर कब्ज़ा करना कानूनन अपराध है. यदि आप गलत नजर से कब्ज़ा करते है, तो सजा भी हो सकती है. इस पोस्ट में कानूनी प्रक्रिया से सरकारी जमीन को अपने नाम कैसे करें की पूरी जानकारी बताया गया है.

सरकारी जमीन अपने नाम कैसे कराए

सबसे पहले किसी भी सरकारी जमीन को अपने नाम पर करने के लिए वह जमीन आपके कब्जे में होना चाहिए. तभी आप उस जमीन को अपने नाम कराने के लिए क़ानूनी नियमो का पलना कर सकते है.

यदि ग्रामीण क्षेत्र में सरकारी जमीन पर कब्जा किये है जो खेती योग्य है या उस जमीन पर मकान बनाये है तो उस जमीन को अपने नाम कराने की प्रक्रिया है. इसके अलावे, यदि रेलवे या सडक का जमीन है, तो उसे छोड़ना पड़ेगा.

घनी आबादी या ग्रामीण क्षेत्र में सरकारी जमीन पर लगभग 30 साल से कब्जा है, तो उस जमीन को क़ानूनी नियमो के अनुसार कोर्ट के द्वारा उस जमीन को अपने नाम पर जारी करा सकते है.

सरकारी जमीन को अपने नाम में करवाने के लिए जरुरी दस्तावेज़

यदि आप सरकारी जमीन को खेती के लिए, घर के लिए, मछली पालन के लिए, किसी व्यापर के लिए अपने नाम कराना चाहते है, तो आपके निम्न दस्तावेज होना चाहिए.

  • सरकारी जमीन का नंबर या डिटेल्स
  • आवास प्रमाण पत्र
  • जाती प्रमाण पत्र
  • आवेदन पत्र
  • अधिकारी द्वारा प्रमाणित शपथ पत्र
  • व्यक्तिगत प्रमाण पत्र
  • आधार कार्ड
  • पासपोर्ट साइज़ फोटो
  • मोबाइल नंबर

सरकारी जमीन अपने नाम पर करने की प्रकिया

सरकारी जमीन को अपने नाम करने के लिए निचे दिए प्रक्रिया को फॉलो कर सकते हा:

  • सरकारी जमीन को अपने नाम पर करने के लिए, जमीन पर आपका कब्ज़ा होना चाहिए.
  • इसके बाद ग्रामीण क्षेत्र के मुखिया या सरपंच के द्वारा एक पेपर बनवाए.
  • अपने जिला के (DM) District Magistrate के पास जमीन सम्बंधित एक आवेदन करे.
  • अब District Magistrate के आदेश के द्वारा अंचल कार्यालय के द्वारा verification किया जाएगा.
  • verifiy करने के बाद उस जमीन को आपके नाम पर किया जा सकता है.

Note: सरकारी जमीन के महत्व को ध्यान में रखते हुए सरकार निर्णय लेगी की उसे क्या करना है. यदि आपका आवेदन स्वीकार नही होता है, तो सरकारी जमीन को खाली करना पड़ेगा.

सरकारी जमीन कैसे खरीदे

  • यदि आप सरकारी जमीन खरीदना चाहते है, तो अधिकारिक वेबसाइट सरकार की नोटिफिकेशन चेक करते रहे. क्योंकि, सरकार जमीनों को पट्टे पर या कुछ योजनाओं के तहत बेचती है.
  • यदि आपको ऐसी कोई योजना या पट्टा की जमीन मिलती है, तो अपने जिला कलेक्टर को एक आवेदन पत्र लिखे.
  • उस आवेदन पत्र में जमीन खरीदने की सभी कारण बताए.
  • इसके साथ अपने सभी आवश्यक डाक्यूमेंट्स जैसे, आधार कार्ड, पैन कार्ड, एड्रेस एवं उसका प्रूव आवेदन के साथ लगाए.
  • यदि जिला कलेक्टर द्वारा सरकारी जमीन का पट्टा बनाने के लिए अप्रूव किया जाता है, तो आप उसे खरीद नही सकते है.
  • उस जमीन का अधिकार सरकार पास रहेगा. इसके साथ आप उस जमीन का उपयोग किसी अन्य कार्य के लिए नही कर सकते है.

इसे भी पढ़े,

डिस्क्लेमर: यह आर्टिकल केवल जानकारी के दृष्टिकोण से दिया गया है. यह पोस्ट किसी भी गैर क़ानूनी एक्टिविटी को बढ़ावा नही देता है.

पूछे जाने वाले प्रश्न: FAQs

Q. सरकारी जमीन को अपने नाम कैसे करें?

सरकारी जमीन को अपने नाम करने के लिए उस जमीन पर आपका लगभग 30 साल से अधिक कब्जा किया हुए होना चाहिए. वह जमीन घनी आबादी,में हो और वह जमीन खेती योग्य भी होना चाहिए.

Q. सरकारी जमीन को अपने नाम पर करने के लिए किसके पास आवेदन करे?

सरकारी जमीन को अपने नाम करने के लिए सबसे पहले मुखिया या सरपंच के द्वारा एक पेपर बनवाए. उसके बाद अपने जिला के (DM) District Magistrate के पास एक आवेदन करे.

Q. सरकारी जमीन को लीज पर कैसे लेते हैं?

सरकारी जमीन को लीज पर लेने के लिए जिला कार्यलयों में आवेदन करना होता है. या फिर अधिकारिक वेबसाइट पर जाए और जमीन लीज पर लेने हेतु ऑनलाइन आवेदन करे.

Q. सरकारी जमीन पर कब्जा करने के लिए कौन सी धारा लगती है?

सरकारी जमीन पर कब्जे करने वाले व्यक्ति पर धारा 91 लगता है. इस धारा में लगान का 50 गुना जुर्माना तथा 3 माह तक की सजा का प्रावधान है. इस धारा से बचने के लिए सरकारी जमीन को कानूनी नियम के तहत पट्टा बनवाए.

Q. सरकारी जमीन पर कब्जा करने की सजा कितनी है?

सरकारी जमीन पर कब्जा करने की सजा लगभग 3 महिना से 3 वर्ष है. इसके साथ उस जमीन की कीमत की 50 गुना जुर्माना लगता है.

Q. सरकारी जमीन पर कब्जा कैसे करे

सरकारी जमीन पर कब्जा कोई नही कर सकता है. हालाँकि कुछ लोग कुछ सरकारी जमीन पर कब्ज़ा कर लेते है, क्योंकि, सरकार को जिस जमीन पर कोई काम नही होता है, तब तक वह जमीन खाली रहता है. लेकिन जब भी सरकार को जमीन की आवश्यता होती है, तो कब्जा किए गए जमीन को खाली करा लिया जाता है. वही भी सरकारी जमीन पर कब्जा करना गैर कानूनी है, कोशिश करे इसे बचे.

Leave a Comment